चींटी और कबूतर की कहानी – Hindi Story of Ant and Pigeon

यहां पर एक चींटी और कबूतर की कहानी कहानी (Hindi Story Ant and Pigeon) शेयर की गई है। जिसमें एक चींटी नदी में पानी पीने जाती है और पैर फिसलने से वह नदी में गिर जाती है। यह बहुत ही अच्छी और प्रेरणादायक Hindi story है। जिसे पढ़ने के बाद आप को बहुत कुछ सीखने को मिलेगा इसलिए इस कहानी को पूरा जरूर पढ़ें।

चींटी और कबूतर की कहानी – Hindi Story of Ant and Pigeon

चींटी और कबूतर की कहानी – Hindi Story of Ant and Pigeon
चींटी और कबूतर की कहानी – Hindi Story of Ant and Pigeon

एक समय की बात है गर्मी के मौसम में एक चींटी को बहुत जोर से प्यास लगती है। तो वह पास के नदी में पानी पीने के लिए जाती है। नदी में पानी का बहुत तेज बह रहा था इसलिए वह नदी के किनारे एक बड़े से पत्थर पर बैठ कर पानी पीने लगी। लेकिन अचानक से उसका पांव फिसल जाता है, और वह नदी में गिर जाती है। पानी का बहाव काफी तेज था जिसके कारण से वह नदी में पानी के साथ बहने लगती है। मदद के लिए गुहार लगाती है।

यह सब नजारा वहीं पर एक पेड़ पर बैठा हुआ कबूतर देख रहा था। जब उसने देखा की चींटी पानी में बहने लगी है तो वह बिना देरी किए पेड़ से एक पत्ता तोड़कर लाता है। और चींटी के आगे रखते हुए कबूतर बोलता है चींटी बहना जल्दी से इस पत्ते में चढ़ जाओ ताकि मैं तुम्हें उठाकर नदी के किनारे रख सकूं।

अब चींटी जल्दी से पत्ते पर चढ़ जाती है। और कबूतर उसे अपनी चोंच से उठाकर नदी के किनारे लाकर रख देता है। चींटी कबूतर का शुक्रिया करती है। और कहती है कि कबूतर भाई आज आप की वजह से मेरी जान बच पाई है। इसलिए कभी जब आप मुसीबत में पड़ना तो हमें याद करना हम तुरंत आपकी मदद के लिए आ जाएंगे।

अगले दिन वहीं पर एक शिकारी आता है और कबूतर को पकड़ने के लिए जाल बिछा कर चला जाता है। कबूतर उस जाल में फंस जाता है। काफी कोशिश करता है लेकिन जाल से नहीं निकल पाता है। तब उसे चींटी की याद आती है। और चींटी को मदद के लिए पुकारता है। चींटी तुरंत कबूतर के पास आती है और यह सब देखकर कहती है। कबूतर भाई आप घबराएं नहीं, मेरी दोस्ती चूहा से है मैं अभी बुलाकर लाती हूँ। वे जाल काटकर आपको छुड़ा लेंगे। और जल्दी से बुलाकर लाती है, चूहा जाल काटकर कबूतर भाई को आजाद कर देता है।

इस कहानी से क्या सीख मिली?

इस कहानी से हमें यह सीख मिलती है कि मुसीबत के समय हमें दूसरों की मदद करनी चाहिए। ताकि जब हम मुसीबत में पड़े तो हमारी मदद के लिए भी लोग सामने आए।

अन्य कहानियाँ

FAQ Hindi Story of Ant and Pigeon

Q: चींटी और कबूतर की कहानी से क्या सीख मिलती है?

Ans: चींटी और कबूतर की कहानी से यह सीख मिलती है कि मुसीबत में पड़े लोगो की हमें हमेशा मदद करनी चाहिए।

Q: चींटी नदी में क्या करने गई थी?

Ans: चींटी नदी में पानी पीने गई थी।

Q: कबूतर ने चींटी को कैसे बचाया?

Ans: जब चींटी नदी में बहने लगी तो कबूतर ने पेड़ से एक पत्ता तोड़कर नदी में रख दिया और चींटी उसमें बैठ गई। तो कबूतर ने पत्ते को अपनी चोंच से उठाकर नदी से बाहर रख दिया।

Q: कबूतर को शिकारी के जाल से किसने आजाद किया?

Ans: चींटी का दोस्त चूहा शिकारी के जाल को कुतर कर कबूतर को आजाद कर दिया।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.