बादाम खाने के फायदे और नुकसान | Badam (Almonds) Khane ke Fayde nuksan

बादाम खाने के फायदे और नुकसान क्या है? Badam (Almonds) khane ke fayade nuksan. बादाम को सूखा खाए या भिगोकर खाना चाहिए? ज्यादा बादाम खाने से क्या नुकसान होता है? बादाम सुबह खाना चाहिए या रात में?

आप सभी को पता होगा कि Dry fruits में से बादाम (Almonds) सबसे ज्यादा पौष्टिक होता है। और हमारे शरीर के लिए काफी अच्छा होता है। आपने लोगो को कहते सुना होगा कि बादाम खाने से दिमाग तेज होता है। क्या वाकई में ऐसा होता है जानेंगे इन सभी सवालों के जवाब इस पोस्ट में नमस्ते दोस्तों मैं हूँ रोहित और Hindi Read Duniya में आपका स्वागत है।

Table of Contents

बादाम किस प्रकार का फूड है? बादाम के बारे में

  • सामान्य नाम – बादाम, Almonds
  • वैज्ञानिक नाम – प्रूनुस डल्शिस
  • कुल – रोजेशी

बादाम को सुपर फूड की श्रेणी में रखा गया है और बादाम को पावर हाउस (Power House) भी कहा जाता है क्योंकि इसमें प्रचुर मात्रा में प्रोटीन, मिनरल्स, विटामिंस और फाइबर्स होता है। इसे आप 2 वर्ष तक स्टोर करके रख सकते हैं।

बादाम खाने के फायदे और नुकसान - Badam (Almonds) Khane ke Fayde nuksan
बादाम खाने के फायदे और नुकसान – Badam (Almonds) Khane ke Fayde nuksan

बादाम रोजेशी परिवार से संबंधित है और इस परिवार में आडू, सेब, नाशपाती, चेरी और खुबानी आदि को सामिल किया गया है। बादाम की उत्पत्ति मध्य एशिया और चीन में मानी जाती है। सबसे ज्यादा बादाम का उत्पादन संयुक्त राज्य में किया जाता है। तथा इसके बाद स्पेन व ईरान का नाम आता है। बाद करे भारत में तो बादाम का उत्पादन जम्मू-कश्मीर और हिमांचल प्रदेश में सबसे ज्यादा होता है।

1 मुट्ठी बादाम में कितने पोषक तत्व होते हैं –

फाइबर3.5 gm
प्रोटीन6 gm
फैट14 gm
विटामिन E37%
मैगनीज32%
मैग्नीशियम20%

इसके अलावा बादाम में कॉपर, विटामिन B2 व फास्फोरस, 161 कैलोरी, 2.5 कार्बोहाइड्रेट होता है। मतलब एक मुट्ठी बादाम में इतने सारे फायदे आपको मिलेंगे।

All Fruits Names in Hindi and English में जानिए

बादाम खाने के फायदे क्या हैं Badam (Almonds) khane ke fayade kya hote hai?

चलिए जानते हैं बादाम खाने से शरीर में क्या क्या फायदे होते हैं? बादाम को सुपरफूड की कैटेगरी में रखा गया है। वैसे तो बादाम खाने के बहुत सारे फायदे और तरीके हैं, लेकिन बात करे बादाम खाने के मुख्य फायदे की तो यह कुछ इस प्रकार हैं –

बादाम खाने के हार्ट की हेल्थ में फायदे

यदि आप रोजाना बादाम का सेवन करते हैं तो इससे आपकी जो हार्ट की प्रोबल्म होती है उससे बचा जा सकता है। यानी की बादाम हार्ट की बीमारी से बचाता है और आपको स्वस्थ्य रखने में काफी मदद करता है। बादाम कोलेस्ट्रोल (Cholesterol) लेवल को मेंटैन कर के रखते हैं जिससे Heart की Problem दूर होने की संभावनाए और बढ़ती है।

दिल का दौरा आने का खतरा कम करता हैं बादाम

एक रिसर्च के में पाया गया कि यदि कोई व्यक्ति बादाम का सेवन हफ्ते में 5 दिन करता है, उसे दिल का दौरा (Heart Attack) आने का खतरा 50% तक कम रहता है|

बादाम खाने के डायबिटीज में फायदे

Almonds डायबिटीज को कंट्रोल करने मे काफी मददगार होता है। बादाम रोज सही मात्रा में खाने से शरीर में Blood Sugar Level कंट्रोल में रहता है।

वजन मेंटेन रखने मे सहायक होते हैं बादाम

अगर बात करें शरीर की फिटनेस हेल्थ की तो बादाम हमारे शरीर के बजन को मेंटैन करके रखता है। जिससे आपका शरीर पर्फेट फिट रहता है। और आप एक हष्ट पुष्ट पर्सनालिटी वाले व्यक्ति दिख सकते हैं।

कैंसर को रोकने में सहायक होता है बादाम

बादाम आपके शरीर में कोलेस्ट्रोल लेवल को कम करता है और कार्डियोवस्कुलर व कैंसर जैसे घातक रोगों को रोकने में मदद करता है।

Reference देखे बादाम के बारे में

बादाम खाने के कुछ अन्य लाभ (Benefits of Almonds)

  • बादाम में मौजूद फोस्फोरस हड्डी व दांतों को मजबूती प्रदान करता है।
  • दिमाग को तेज रखने मे सहायक होता है बादाम।
  • बादाम में मौजूद मैग्नीशियम ब्लड प्रेशर को कम करने में मददगार होता है।
  • रोजाना बादाम खाने से हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढती है, जिससे छोटी-छोटी बीमारी जल्दी हमारे शरीर पर अपना असर नहीं डाल पाती है।
  • रोजाना 2-3 बादाम खाने शुरू करिए, पाचन क्रिया चुस्त-तंदरुस्त रहेगा, यदि आपका पेट हमेशा आपको परेशानी देता है तो।
  • बादाम में मौजूद Monounsaturated Fat जल्दी लगने वाली भूख को कंट्रोल करता है। और शरीर में एनर्जी को भी बनाए रखता है।

यह भी जाने

साबूदाना शाकाहारी है या मांसाहारी, जानिए फैक्ट्री में साबूदाना कैसे बनता है?

मोबाइल से आँखों को नुकसान – Mobile se aankho ko kaise bachaye

बादाम खाने का सही तरीका क्या है? Badam khane ka sahi samay kya hai?

क्या बादाम को सुबह खानी पेट खाना चाहिए? या सोने पहले बादाम खाना चाहिए? और बादाम को सूखा खाए या भिगोकर खाए? ऐसे बहुत सारे सवाल हमारे मन में होते हैं तो इसका सही जवाब यह है कि आपको सिर्फ 1 मुट्ठी भर बादाम रोजाना खाने की जरूरत है। आप इसे जिस समय खाए कोई खास फर्क नही होता है। आप चाहे सूखा बादाम खाएं, भिगोकर खाएं या फिर हल्वा, स्वीट आदि में इस्तेमाल करें सभी में आपको फायदा ही मिलेगा।

भीगे हुए बादाम खाने के फायदे

बादाम को भिगोकर खाने से इसमें डाइजेस्टिबिलिटी बढ़ जाती है यानी की भिगा हुआ बादाम जल्दी पचाया जा सकता है। सूखे बादाम के मुकाबले, बाकी पोषक तत्व दोनो तरह में सेम ही होता है।

सोने से पहले बादाम खाने के फायदे

यदि आपको नीद की समस्या हो तो आप सोने से पहले बादाम खा सकते हैं क्योंकि इसमें मैंग्नीशियम होता है जो नीद लाने में सहायक होता है।

सुबह खाली पेट बादाम खाने के फायदे

यदि आप अपने एथलेटिक प्रदर्शन को बढ़ाना चाहते हैं, आपको बादाम का यूज सुबह के समय करना चाहिए।

1 दिन में कितने बादाम खाने चाहिए

1 दिन में मुट्ठी भर बादाम खाना चाहिए। इससे अधिक मात्रा में बादाम नही खाना चाहिए क्योंकि अधिक मात्रा में बादाम खाने से आपको नुकसान भी हो सकता हैं। ये रहें कुछ बादाम का ज्यादा सेवन करने के नुकसान –

बादाम खाने से क्या नुकसान है (Almond side effects in hindi)

बादाम खाने से फायदे भी है और कुछ नुकसान भी देखने को मिल सकते हैं जो कुछ इस प्रकार से हैं।

  • कब्ज की समस्या – बादाम का अत्यधिक सेवन करने से कब्ज और पेट फूलना हो सकता है, क्योंकि इसमें फाइबर ज्यादा होता है। और अधिक मात्रा में फाइबर शरीर में प्रवेश करने से पाचनशक्ति गड़बड़ा जाती है।
  • दवा से इंटरेक्शन – यदि आप एक मैंगनीज युक्त डाइट पर हैं और ऐसे में आप बादाम खाते है। तो इससे आपकी दवाओं में हस्तक्षेप पहुँच सकता है। इसका कारण यह है कि बादाम मे भी मैंगनीज पाया जाता है, इससे शरीर में मैंग्नीज की मात्रा बढ़ सकती है। हमारे शरीर को दैनिक भोजन में 1.3 से 2.3 मिलीग्राम मैंग्नीज की जरूरत होती है।
  • बादाम का ज्यादा सेवन करने से कब्ज की समस्या हो सकती है। हमें विटामिन E की जरूरत हर दिन 15mg की होती है और बादाम अधिक मात्रा में खाने से इसकी मात्रा हमारे शरीर में अधिक होने लगती है।
  • वजन बढ़ना – इसमें प्रचुर मात्रा में फैट होता है और बादाम के अधिक मात्रा में सेवन करने से शरीर में धीरे-धीरे फैट जमा होने लगता है और सही से कैलरी को न जलाया जाए तो इससे वजन बढ़ने लगता है।
  • शरीर में विषैले स्तर की वृद्धि – कड़वे बादाम हाइड्रोसायनिक एसिड को शामिल करने के लिए जाने जाते है जोकि निम्न लक्षणों को दर्शाता है जैसे तंत्रिका तंत्र का धीमा होना, श्वास लेने की समस्या आदि ये घटक भी हो सकते हैं।

नोट – जिन लोगों को पित्ताशय एवं गुर्दे से संबंधित किसी भी प्रकार का विकार हो तो उन्हें बादाम नही खाना चाहिए।

तो, अब आप समझ गए होंगे की बादाम को अधिक मात्रा में नही खाना चाहिए, लेकिन बादाम को सही मात्रा में खाने से इससे फ़ायदे भी बहुत होते है। एक रिसर्च के में यह पाया गया कि यदि कोई व्यक्ति बादाम का सेवन हफ्ते में 5 दिन करता है, तो उसे दिल का दौरा (Heart Attack) आने का खतरा 50% तक कम रहता है।

FAQ

क्या बादाम को छीलकर खाना चाहिए या बिना छीले?

सांइटिफिकली बादाम को छिलका सहित यूज करना चाहिए क्योंकि ऐसा माना जाता है बादाम के छिलके में ही पॉलीफिनोल पाया जाता है जिनमें बहुत सारे न्यूट्रियांस होते हैं।

बादाम को भिगोकर खाना चाहिए या सूखा?

आप बादाम को चाहे सूखा खाए या भिगो कर खाए इससे कोई ज्यादा फर्क नही पड़ता है लेकिन भिगोकर खाने से डाइजेस्टिविलिटी बेटर होती है। इसलिए आप अपने अनुसार खा सकते हैं।

क्या बादाम को फ्रिज में रखने से इसकी Nutritional कम हो जाती है?

ऐसा बिन्कुल नही है बादाम को फ्रिज में रखने से इस पर कोई फर्क नही पड़ता है बल्कि इससे इसकी सेल्फ लाइफ बढ़ जाती है।

क्या बादाम खाने से दिमाग तेज होता है?

बादाम में पाया जाने वाला प्रोटीन ब्रेन सेल्स को रिपेयर करने में मदद करता है। बादाम में विटामिन E और ओमेगा 3 फैटी एसिड होता है जो दिमाग को हेल्दी रखने में मदद करता है। बादाम में मैग्नेशियम होता है जिससे दिमाग की नसें मजबूत होती हैं। विटामिन ई से फोकस करने की क्षमता तेज होती है और याददाश्त बढ़ती है। इसीलिए बच्चों को बोला जाता है की बादाम खाया करो दिमाग तेज होता है।

उम्मीद करता हूँ की इस पोस्ट से आपको बादाम खाने के फायदे और नुकसान – Badam (Almonds) Khane ke Fayde nuksan क्या होते हैं। अगर आप अच्छी सेहत पाना चाहते हैं तो आपको बादाम रोज़ाना खाना चाहिए। लेकिन आपको हेल्थ की कोई प्रोब्लम हो तो ऐसे में आपको एक बार डॉक्टर से जरूर सलाह लेना चाहिए। इसके बाद ही बादाम का सेवन शुरु करें

Leave a Comment