पंखा चलते चलते गंदा क्यों हो जाता है?

पंखा चलते चलते गंदा क्यों हो जाता है?

हमारे आस पास कुछ ऐसी घटनाएँ होती रहती हैं जिन्हे देख कर हम सोच में पड़ जाते हैं कि आखिर ऐसा क्यों होता है। जैसे पंखा चलते चलते गंदा क्यो हो जाता है? जबकि हवा से तो धूल-मिट्टी और साफ होना चाहिए। ये सवाल मन में जरूर आता है। तो यहाँ पर आपको ऐसे ही रोमांचक सवाल के जबाब मिलने वाले हैं। 

पंखा गंदा क्यों हो जाता है?

पंखा-चलते-चलते-गंदा-क्यों-हो-जाता-है
पंखा-चलते-चलते-गंदा-क्यों-हो-जाता-है

आपने देखा होगा घर में लगा पंखा सीलिंग फैन या टेवल फैन कोई सा भी हो उसमें धीरे-धीरे पंखुड़ियों में धूल-कचड़ा जम जाता है। लेकिन उसके सामने से सारी धूल साफ हो जाती है, जो भी उसके तेज़ हवा के सामने आती है, फिर पंखा ही क्यों गंदा होता है?

इसका कारण है पंखे की बनावट, जब पंखा को चालू करते है तब अपनी क्षमता के अनुसार घूमता है और पीछे से हवा को खीच कर आगे की तरफ फेकता है। यह प्रोसेस बहुत तेजी से होती है जिससे हवा में मौजूद नमी इसकी पंखुड़ियो में चिपक जाती है जससे पंखुड़िया गीली हो जाती हैं और उसके साथ ही उसमें धूल के कण भी चिपक जाते हैं। जिससे पंखा गंदा हो जाता है।

अब आपको पता चल गया होगा कि पंखा चलते चलते गंदा क्यों हो जाता है? उम्मीद करता हूँ यह जानकारी आपको पसंद आयी होगी। इसे आप दोस्तों के साथ शेयर करके हमारा मनोबल बढ़ा सकते हैं। धन्यवाद!

 

और भी सवाल है?

    चमगादड़ उल्टा क्यों लटकता है?

    बर्फ पानी में क्यों तैरता है डूबता क्यों नही?

    टेस्टर से बिजली चेक करने पर हमें करेंट क्यों नही लगता?

    करंट लगने से मौत क्यों हो जाती है?

 

Leave a Comment