Month Name in English and Hindi | 12 महीनों के नाम हिंदी और इंग्लिश में

इस आर्टिकल में जानिए  Month Name in English and Hindi | 12 महीनों के नाम हिंदी और इंग्लिश में यहाँ पर हमने काफी उपयोगी और महत्वपूर्ण जानकारी महीनों के के बारे में शेयर किए है जो आपके नालेज को बढ़ाने में मदद करते हैं। इस पोस्ट में आप अंग्रेजी कैलेंडर और भारतीय कैलेंडर के बारे में जानेंगे।

इसके साथ ही आप जानेगे कि फरवरी में 28 दिन ही क्यों होते हैं? लीप इयर क्या है? इस सभी को जानने के लिए पोस्ट को पूरा लास्ट तक जरूर पढ़े।

Month Name in English and Hindi | 12 महीनों के नाम हिंदी और इंग्लिश में

Month Name in English and Hindi | 12 महीनों के नाम हिंदी और इंग्लिश में
Month Name in English and Hindi | 12 महीनों के नाम हिंदी और इंग्लिश में
क्र.सं.Month Name in Englishअंग्रेजी महीनों के नाम हिंदी मेंदिन
1stJanuaryजनवरी31
2ndFebruaryफरवरी28 / 29
3rdMarchमार्च31
4thAprilअप्रैल30
5thMayमई31
6thJuneजून30
7thJulyजुलाई31
8thAugustअगस्त31
9thSeptemberसितम्बर30
10thOctoberअक्टूबर31
11thNovemberनवम्बर30
12thDecemberदिसम्बर31

फरवरी में 28 दिन ही क्यों होते हैं?

सवाल यह है कि जब सभी महीने 30 और 31 दिन के होते हैं तो फरवरी क्यों 28 या 29 दिन की होती है? तो इसके पीछे का कारण पृथ्वी और सूर्य हैं दरअसल पृथ्वी को सूर्य का चक्कर लगाने में 365 दिन और 6 घंटे का समय लगता है। और यदि फरवरी को भी 30-31 दिन का किया जाता तो 365 दिन से ज्यादा का साल हो जाता। इसलिए इसे फिक्स करने के लिए फरवरी को 28 दिन का रखा गया।

लेकिन जो हर साल 6 घंटे एक्स्ट्रा बच जाते हैं और ये 4 साल बाद 24 घंटे यानि की एक दिन में बदल जाते हैं। इसी वजह से फरवरी के महीने में प्रत्येक 4 साल बाद 29 दिन होते हैं। और जिस बर्ष में फरवरी 29 दिन की होती है उसे लीप बर्ष (Leap Year) कहा जाता है।

लीप ईयर निकालने के लिए आपको उस सन को 4 डिवाइड करना है यदि शेषफल 0 आता है तो यह बर्ष लीप बर्ष होता है। और यदि कुछ शेषफल बचता है तो यह बर्ष नार्मल बर्ष होता है। उदाहरण के लिए यह फोटो देखे –

लीप ईयर निकालने का तरीका
लीप ईयर निकालने का तरीका
लीप ईयर पता करने का सूत्र
लीप ईयर पता करने का सूत्र

यह भी देखे

भारतीय महीनों के नाम हिंदी में

क्र.सं.भारतीय महीनों के नामहिंदी महीना कब आता है
पहलाचैत्र (चैत)मार्च-अप्रैल
दूसरावैशाख (बैसाख)अप्रैल -मई
तीसराज्येष्ठ (जेठ)मई -जून
चौथाआषाढ़ (असाढ़)जून-जुलाई
पाँचवाश्रावण (सावन)जुलाई-अगस्त
छठवाँभाद्रपद (भादों)अगस्त-सितम्बर
सातवाँआश्विन (कुमार)सितम्बर-अक्टूबर
आठवाँकार्तिक (कातिक)अक्टूबर-नवम्बर
नौवामार्गशीर्ष (अगहन)नवम्बर-दिसम्बर
दसवाँपौष (पूस)दिसम्बर-जनवरी
ग्यारहवाँमाघजनवरी-फरवरी
बारहवाँफाल्गुन (फागुन)फरवरी-मार्च

हिंदी महीनों में कितने पक्ष होते हैं?

हमारा भारतीय कैलेंडर अंग्रेजी कैलेंडर से थोड़ा अलग है। भारतीय हिंदी महीनों में प्रत्येक महीने में 2 पक्ष होते हैं जिन्हे कृष्ण पक्ष और शुक्ल पक्ष कहा जाता हैं। पहला पक्ष, कृष्ण पक्ष होता है और दूसरा पक्ष, शुक्ल पक्ष होता है।

एक पक्ष में कितने दिन होते हैं?

एक पक्ष में 15 दिवस होते हैं, जब कभी इन तिथियो में क्षय हो जाता है तो एक पक्ष 14 दिन का होता है और जब तिथि में वृद्धि होती है तो यह पक्ष 16 दिन का भी होता है।

इन तिथियो को  इस प्रकार से गिना जाता है

  • प्रतिपदा
  • द्वितीया
  • तृतीया
  • चतुर्थी
  • पंचमी
  • षष्ठी
  • सप्तमी
  • अष्टमी
  • नवमी
  • दशमी
  • एकादशी
  • द्वादशी
  • त्रयोदशी
  • चतुर्दशी
  • अमावस्या / पूर्णिमा

यहाँ पर कृष्ण पक्ष की आखिरी तिथि अमावस्या कहलाती है, तथा शुक्ल पक्ष की आखिरी तिथि पूर्णिमा होती है। और इस तरह से भारतीय हिंदी महीना कृष्ण पक्ष की प्रतिपदा से शुरू होकर शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा को समाप्त होता है। और हिंदी महीना का पहला महीना चैत्र है।

Months Name according Season in Hindi ऋतुओं के नाम हिंदी से

ऋतुओं के नाममहीनो के नाम
वसंत ऋतुमार्च-अप्रैल
ग्रीष्म ऋतुमई-जून
वर्षा ऋतुजुलाई-अगस्त
शरद ऋतुसितम्बर-अक्टूबर मध्य नवम्बर
हेंमत ऋतुनवम्बर-दिसम्बर
शीत ऋतुजनवरी-फरवरी

FAQ

Q. किस हिंदी महीने को क्वार का महीना कहते हैं?
Ans. आश्विन (कुमार) के महीने को क्वार का महीना कहते हैं।

Q. 30 दिन वाले महीनों के नाम
Ans. अप्रैल, जून, सितम्बर, और नवम्बर में 30 दिन होते हैं।

Q. 31 दिन वाले महीनों के नाम
Ans. जनवरी, मार्च, मई, जुलाई, अगस्त, अक्टूबर और दिसम्बर में 31 दिन होते हैं तथा फरवरी में 28 व 29 दिन होते हैं।

Q. फरवरी महीने में 29 दिन कब होते हैं
Ans. Leap Year (लीप इयर) में फरवरी 29 दिन की होती है।

Conclusion

प्रिय रीडर हमे पूरी उम्मीद है, की आपको यहाँ पर दिए गए 12 महीनों के नाम हिंदी और इंग्लिश में पूरी जानकारी को पढ़कर अच्छा लगा होगा। यहाँ पर हमने अपनी तरफ से भारतीय महीनो के नाम और अंग्रेजी महीनों के नाम को अच्छी तरह से आपके लिए लिखा है। आप इस पोस्ट Month Name in English and Hindi को अपने दोस्तों और परिवार के अन्य लोगों के साथ शेयर जरूर करें। पोस्ट को पूरा पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद।

यह पोस्ट भी पढ़े

Leave a Comment