GST क्या है? और कितने प्रकार का होता है | What is GST in Hindi

भाई ये जीएसटी है क्या? हर जगह सुनने को मिलता है जीएसटी लग रहा है  या GST कट रहा है? तो आपका साधारण जबाब होता है जीएसटी यानी टैक्स जो सरकार लेती हैं। हां ठीक है, पर हम कभी यह नहीं सोचते जीएसटी हम क्यों देते हैं और इसका पूरा नाम क्या है।
तो आइए आज जान लेते हैं GST क्या है? और जीएसटी हर जगह क्यों लगता है?
GST 2Bkya 2Bhai
GST kya hai

GST क्या है?

मैं अपनी साइट का डोमेन खरीद रहा था जिसकी कीमत 499 रूपये थी। मैंने सोचा चलो ठीक है 499 बहुत ज्यादा नहीं है पर जैसे ही मैंने पेमेंट के अगले चरण में गया तो जीएसटी 18% जुड़ा और टोटल 605.95 रूपये हो गया। मैं जानता था जीएसटी कटेगा इसलिए मुझे ₹605.95 रूपये देना पड़ा। तो दोस्तों आपकी पोस्ट को मजेदार बनाने के लिए मैंने थोड़ा सा ऐसे शुरुआत की।
तो दोस्तों आप सभी जानते हैं पहले जीएसटी नहीं लगता था। जीएसटी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 1 जुलाई 2017 से लागू की गई। जीएसटी का अंग्रेजी में पूरा नाम Goods and Services Tax है यानी वस्तु और सेवा कर जिसे हम जीएसटी कहते हैं। जीएसटी अन्य सभी कर को समाप्त करता है और जीएसटी देश के हर जगह में समान लगता है जिससे उपभोक्ता को कई करो से छुटकारा मिलता है।

जीएसटी के प्रकार

हमारा देश संघीय देश होने के कारण राज्य एवं केंद्र सरकार दोनों को कर लगाने का अधिकार है।
इसलिए हमें जीएसटी का भुगतान दो मुख्य करो में करना पड़ता है।
  1.  केंद्रीय जीएसटी ( CGST)
  2. राज्य स्तरीय जीएसटी (SGST)
सरल भाषा में जीएसटी मुख्य रूप से दो तरह का होता है जिसका विस्तृत रूप चार प्रकार का होता है जो कि निम्न प्रकार हैं।
  1. CGST – Central GST यह केंद्र सरकार द्वारा लिया जाने वाला कर होता है ।
  2. SGST – State जीएसटी यह राज्य सरकार द्वारा राज्य के अंतर लगाए जाने वाला कर होता है।
  3. IGST –  यह केंद्र सरकार द्वारा राज्य के बाहर वस्तु एवं सेवाओं की आपूर्ति पर लगाए जाने वाला कर होता है। जिसे अंतर राज्यीय कर भी कहते हैं।
  4. UTGST –  केंद्र शासित प्रदेश वस्तु एवं सेवा कर। इसका पूरा नाम Union Territory GST है। यह केंद्र शासित प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के अन्दर वस्तु की आपूर्ति और सेवा पर लगाया गया कर होता है।

राजस्व में वृद्धि

जीएसटी ‘एक देश, एक कर नियम’ के अंतर्गत आता है। जीएसटी 17 अन्य करों को समाप्त करता है इससे केंद्र एवं राज्य सरकार के राजस्व में वृद्धि होती हैं जो देश के विकास में सहायक है।
यह लेख आपको कैसा लगा इसके बारे में हमें नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं साथ ही ऐसी और जानकारी के लिए  Hindi Read Duniya को Subscribe करें।और हमसे जुड़ने के लिए ट्विटर पर फॉलो करें और हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें।

Leave a Comment